आज भारत विश्व की उभरती हुई अर्थव्यवस्था है।40 करोड़ इंटरनेट उपयोगकर्ताओं के साथ भारत दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा इंटरनेट बाजार है। इसका मुख्य कारण भाषा की विविधता है।भारत में विभिन्न प्रकार की भाषाएँ तथा स्थानीय बोलियाँ हैं। इस कारण विभिन्न कम्पनियों तथा उद्योग जगत को स्थानीय लोगों तक अपनी बात तथा उत्पाद को पहुंचाने में समस्या होती है। इस समस्या का समाधान स्थानीय भाषा में रियल टाइम अनुवाद है।

देवनागरी
देवनागरी, भारतीय भाषाओं पर आधारित कृत्रिम बुद्धि द्वारा संचालित मानव प्रायोजित भारत का पहला अनुवाद मंच और स्टार्टअप है। कम्पनी ने एक ऐसा टूल विकसित किया है जो अनुवाद विशेषज्ञों तथा कृत्रिम बुद्धि के माध्यम से शत प्रतिशत शुद्ध परिणाम देता है। टूल अनुवाद को 5 गुना तेज तथा अनुवाद में लगने वाले समय को 80 प्रतिशत तक कम कर देता है। देवनागरी के माध्यम से किसी भी भारतीय भाषा में रियल टाइम अनुवाद किया जाता है।

कुटुंब
कुटुंब का अर्थ परिवार है।हमने विभिन्न भाषा तथा अलग-अलग विषय से संबंधित अनुवाद विशेषज्ञों, समीक्षकों तथा भाषा विशेषज्ञों आदि के लिए कुटुंब समुदाय बनाया है। इंटरनेट के इस आधुनिक युग में देवनागरी के माध्यम से भाषा के कारण उत्पन्न होने वाले अन्तर को कम किया जा सकता है।
इंटरनेट के बढ़ते उपयोग के कारण आज स्थानीय भाषा में विषय-वस्तु का उपलब्ध होना सभी के लिए समस्या बना हुआ है। क्योंकि इंटरनेट पर अधिकांश विषय-वस्तु अंग्रेजी में हैं।

उपलब्धियाँ
राइज़ कांफ्रेंस 2018:
कंपनी ने हांगकांग में आयोजित राइज़ कांफ्रेंस 2018 में भाग लिया तथा टूल के द्वारा अनुवाद के भविष्य पर अपने विचार व्यक्त किये। इस कार्यक्रम में भाग लेने के लिए देवनागरी को विभिन्न देशों से आये हजारों आवेदनों में से चुना गया था। इस सम्मेलन में हमारे टूल ,विचार तथा कार्य की सराहना स्थापित ब्रांड द्वारा की गई।

फिक्की भाषान्त्र 2018:

डिजिटल इंडिया तथा स्थानीय भाषाओं को बढ़ावा देने के उद्देश्य से आयोजित किये गए सम्मलेन फिक्की भाषान्त्र 2018 में हमने भाग लिया। देवनागरी ने फिक्की में उपस्थिति विभिन्न क्षेत्रों से आये हुए अनुभवी लोगों के समक्ष स्थानीय भारतीय भाषाओं को बढ़ावा देने के अपने विचार और प्रयास को साझा किया।

यूपी स्टार्टअप कॉन्क्लेव 2018:
स्टार्टअप को बढ़ावा देने के उद्देश्य से आयोजित यूपी स्टार्टअप कॉन्क्लेव 2018 में हमें भाग लेने का अवसर प्राप्त हुआ। इसके माध्यम से हमने टूल का प्रदर्शन और अनुवाद उद्योग में तकनीकी के उपयोग से होने वाले परिवर्तनों पर अपने विचार साझा किये।

देवनागरी की देन
देवनागरी आज अनुवाद उद्योग के क्षेत्र में तेजी से उभरता हुआ स्टार्टअप है। देवनागरी विभिन्न विषयों जैसे आई.टी., चिकित्सा, शिक्षा, सरकारी दस्तावेजों, बेवसाईटों, मोबाईल एप्लीकेशन तथा ई-बुक आदि का विभिन्न भारतीय भाषाओं में अनुवाद करता है।हिंदी में कार्य कराने के इच्छुक और हिंदी को बढ़ावा देने वाली कंपनियों को देवनागरी मुफ्त सुझाव प्रदान करती है।देवनागरी विभिन्न उद्योग क्षेत्रों के साथ-साथ इस क्षेत्र से जुड़े अनुवाद विशेषज्ञों को तकनीकी और टूल की सहायता से एक मंच पर लाना चाहते है।देवनागरी का प्रयास डिजिटल सामग्री को भारतीय भाषाओं में उपलब्ध कराना है तथा प्रत्येक भारतीय को सशक्त बनाना है ताकि वह भी इंटरनेट के इस युग में कदम से कदम मिला कर चल सकें।
इच्छुक व्यक्ति और कम्पनियां मुफ्त परामर्श अथवा सुझाव के लिए संपर्क कर सकते हैं: [email protected], फोन : + 91-9958104612, वेबसाइट: www.devnagri.com